मोबाइल और इन्टनेट बैंकिंग क्या है ? : Mobile banking kaise karte hain – Internet banking kaise karte hain


 
मोबाइल और इन्टनेट बैंकिंग क्या है ? : mobile banking kaise karte hain – internet banking kaise karte hain


internet mobile banking kaise karte hai

 

टॉपिक :  

ü  Intenet Banking और Mobile Banking की पूरी जानकारी?

ü  Digital Banking की जरुरत क्यों पड़ी ?

ü  Digital Desh के सहयोग में Digital Banking

ü  बैंकिंग क्या है और क्या काम आता है ?

ü  मोबाइल बैंकिंग क्या है (Mobile Bnaking kaise kare )?

ü  कीपैड वाले फ़ोन से मोबाइल बैंकिंग करे ?

ü  मोबाइल बैंकिंग सुरक्षित है या नहीं  ?

ü  इन्टरनेट बैंकिंग क्या है ( Intenet banking kaise kare) ?

ü  इन्टरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल किस चीज में होता है ?

ü  इन्टरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल 24 घंटे कर सकते है ?

ü   मोबाइल बैंकिंग और इन्टनेट बैंकिंग कौन बेहतर ?

ü  मोबाइल इन्टनेट बैंकिंग के फायदे ? (Internet Banking Benefit)

ü  मोबाइल बैंकिंग पंजीकृत (Register) कैसे करे ?

ü  मोबाइल बैंकिंग से फण्ड / पैसे ट्रान्सफर कैसे करे

ü  मोबाइल बैंकिंग एप कहा से मिलेगा ?

ü  क्या में MPIN को बदल सकता हु ? (Can change MPIN ? )

ü  क्या हर बैंक के लिए एक ही Mobile Banking App होता है ?

ü  सबसे अच्छा Mobile Banking App कौनसा है ?

 

 

 

Intenet Banking और Mobile Banking की पूरी जानकरी  ( Intenet Banking Vs Mobile Banking in hindi)

मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग बैंक द्वारा प्रक्षेपण (launch) किए दो तरह के तरीके हैं जिनकी मदद से आप ऑनलाइन बैंकिंग जैसी सुविधा का लाभ उठा सकते हो | जहाँ बहुत-सी चीजें दोनों ही बैंकिंग के तरीकों में मेल खाती है तो वहीं कुछ अपने अलग-अलगमहत्व भी हैं | मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग की सेवाओं ने बैंकिंग की दुनिया में अपनी-अपनी एक जगह बना रखी है इन सेवाओं का बहुत से उपभोक्ताओं (users) ने स्वागत किया है | इन दोनों सेवाओं के इस्तेमाल में आने से हमारे बहुत से बैंक से जुड़े काम और बहुत से transactions को आसान कर दिया है | बस चाहिए, तो एक smartphone और कंप्यूटर(computer) जो की इन्टरनेट से जुड़ा(connect) हुआ हो |

 

इन्टरनेट बैंकिंग एक सुविधा जनक सेवा(convenience facility) है जिसके माध्यम से आप बहुत से वित्तीय(financial) और गैर वित्तीय(non-financial) ऑनलाइन transactions आप अपने घर, दफ्तर से कर सकते हो

तो वहीं मोबाइल बैंकिंग के आ जाने से इस सुविधा में और इजाफा हुआ है क्योंकि मोबाइल बैंकिंग का आप कहीं से भी, कभी भी, इस्तेमाल कर सकते हो |

इन्टरनेट बैंकिंग को इस्तेमाल करने के लिए आपको एक कंप्यूटर या लैपटॉप के ज़रूरत होती है जो इन्टरनेट से जुड़ा हुआ हो तो वहीं मोबाइल बैंकिंग को आप अपने smartphone और कीपैड फ़ोन से भी इस्तेमाल में ला सकते हो क्योंकि आप हर जगह तो अपने लैपटॉप और कंप्यूटर को साथ नहीं ले जा सकते लेकिन मोबाइल फ़ोन, smartphone एक ऐसा यंत्र (device)जो हमेशा आपके साथ ही रहता है |

 

डिजिटल बैंकिंग की आवश्यकता क्यों पड़ी ? (Need Of Digital Banking in Hindi)

2016 वह वर्ष था जब भारत में एक ऐतिहासिक कदम उठाया गया विमुद्रीकरण (Demonetisation) जिसके वजह से पूरे देश में यह एलान कर दिया गया की उच्च मुद्रा को बंद करा जा रहा है उसकी जगह नए मुद्रा को देश की जनता के लिए लाया जाएगा | विमुद्रीकरण करने के पीछे बहुत से कारण थे लेकिन उनमें से एक बहुत ही महत्वपूर्ण कारण था की digital इंडिया को बढ़ावा दिया जाए | digital बैंकिंग को चलन में लाया जाए | digital इंडिया का उद्देश्य यही है की देश की जनता को cash से cashless की तरफ ले जाया जाए digitally ऑनलाइन transactions के लिए प्रोत्साहित करा जाए | जितना हो सके उतना इलेक्ट्रानिकली ऑनलाइन तरीके से digitally पैसों का transfer या भुगतान किया जाए digital इंडिया का सहयोग देने के लिए बहुत से बैंकों ने साथ दिया है | बैंकों ने अपने सेवाओं को और बढ़ाया है | बढ़ती टेक्नोलॉजी के साथ बैंक और सरकार भी नए-नए प्लेटफार्म दे रहें है ऑनलाइन transactions को सहयोग देने में | उदाहरण के तौर पर बात करें तो इन्टरनेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग एक ऐसे प्लेटफार्म हैं जिनके माध्यम से आप ऑनलाइन transactions कर सकते हो |

 

डिजिटल भारत के सहयोग में डिजिटल बैंकिंग

जो लोग digitally लेन-देन करना जानते है, इस्तेमाल कर रहें है या सीख रहें उनको यह मालूम होगा की digitally लेन-देन से देश की इकॉनमी पर कितना अच्छा प्रभाव पड़ता है, इंडियन इकॉनमी और बेहतर होती है| जिनको digital, ऑनलाइन transactions करने का ज्ञान है जो digital उपभोक्ता है वो लोग हमेशा तैयार रहते हैं बैंक या सरकार द्वारा launch किए गए कोई नए प्लेटफार्म को इस्तेमाल करने के लिए जो digital इंडिया में सहयोग दें|

Digital इंडिया के योगदान में जहाँ शुरुआत debit और क्रेडिट कार्डों ने की तो वहीं आज इन्टरनेट और मोबाइल बैंकिंग के आने से हम एक और कदम आगे बढ़ चुके हैं हमने बढ़ती टेक्नोलॉजी के साथ चीजों को और भी सुविधा जनक कर दिया है बैंकिंग को अब और भी आसान कर दिया है | एक समय था जब छोटे-छोटे transactions के लिए भी हमें बैंक के चक्कर काटने पड़ते थे लेकिन अब ऑनलाइन सुविधा मौजूद है| आप ऑनलाइन किसी को भी पैसे ट्रान्सफर कर सकते हो, ऑनलाइन शौपिंग कर सकते हो, ऑनलाइन बिल का भुगतान, मूवीटिकेट बुक करना, ऑनलाइन रिचार्ज करना, ऑनलाइन पेमेंट करना इत्यादि यह सब काम आप ऑनलाइन ही कर सकते हो बिना कोई cash के लेन-देन किए बगैर और न ही आपको कोई बैंक या किसी के पास जाने की ज़रूरत है | अब आपको यह चिंता करने की ज़रूरत नहीं कि आपकी जेब (pocket) में पैसे हैं या नहीं अब आप ऑनलाइन digitally पैसों का लेन-देन कर सकते हैं बस आपके बैंक खाते (account) में पैसे होने आवश्यक है |

मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग के बारे में जानने से पहले आपको बैंकिंग के बारे में थोड़ा सा अंदाजा(idea) होना चाहिए तो समझते हैं बैंकिंग क्या होती है

 

बैंकिंग क्या है और क्या काम आता है ? ( Banking kya hai or kya kam aata hai)

बैंकिंग एक ऐसा क्षेत्र(sector) है जहाँ पर पैसों का लेन-देन होता है बैंक में हम लोग अपने पैसे जमा करते हैं और जब हमें उन पैसों की ज़रूरत होती है तो हम अपने मुताबिक उन पैसों को निकाल भी सकते हैं | वित्तीय संस्थाएं जो इस क्षेत्र के अन्दर करती हैं या आती है वह बैंक कहलाते हैं | हमारे द्वारा जमा किए गए पैसों को बैंक अलग-अलग जगह निवेश(invest) करके उनसे मुनाफा कमाते हैं |

बैंकों द्वारा दी गई(provide) मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग जैसी सेवाओं में से बहुत से जन इन्टरनेट बैंकिंग को चुनना पसंद करेंगे तो बहुत से लोग मोबाइल बैंकिंग को | लेकिन क्या मोबाइल बैंकिंग और net बैंकिंग एक ही चीज़ है ? नहीं मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग में अंतर है तो बहुत-सी समानताएं भी हैं | तो चलिए जानते हैं मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग में क्या अंतर है?

 

 

 

मोबाइल बैंकिंग क्या है (Mobile Banking Kaise Kare ?)

मोबाइल बैंकिंग एक ऐसी सेवा है जो आपको बैंकों द्वारा प्रदान की जाती है | मोबाइल बैंकिंग में आपको बैंक के द्वारा दिए गए विशेष application(app)के माध्यम से ही ऑनलाइन transactions  करनी होती है | यह एक ऐसा प्लेटफार्म है जहाँ आपको अपने smartphone या टेबलेटमें बैंक्स द्वारा प्रदान किए गए विशेष app को डाउनलोड पड़ता है | इन ऐप को आप एंड्राइड के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हो और अगर आप एक IOSयूजर हो तो एप्पलस्टोर से डाउनलोड कर सकते हो | ऐप निर्धारित इस सेवा में आपको पंजीकृत करना होगा जब भी आप पहली बार इन ऐप को खोलेंगे (open)

बहुत सारी transactions को इन ऐप की मदद से अपने smartphone पर ही कर सकते हो | मोबाइल बैंकिंग से होने वाली transactions जैसे की

ü  फंड्सट्रान्सफर करना,

ü  bills का भुगतान करना,

ü  ऑनलाइन की गई transactions का एक statement निकालना,

ü  Balance history की जांच करना,

ü  ऑनलाइन टिकेट बुक करना,

ü  ऑनलाइन कोई रिचार्ज करना आदि यह सभी सेवाएं आपको मोबाइल बैंकिंग में प्राप्त हो जाती है |

जिन लोगों के पास smartphone है वह लोग इन सेवाओं का आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं बदशरते आपके smartphone में एक अच्छा इन्टरनेट कनेक्शन हो | क्योंकि इन बैंकिंग ऐप को इस्तेमाल करने के लिए आपको इन्टरनेट की ज़रूरत पड़ती है

 

कीपैड वाले फ़ोन से मोबाइल बैंकिंग द्वारा पैसे भेजे ? ( keypad wale phone me Mobile Banking)

लेकिन हमारे देश में बहुत से लोग ऐसे भी जिनके पास कोई smartphone नहीं है तो ऐसे में मोबाइल बैंकिंग और भी खास बन जाती है जब आप अपने सेलुलर फ़ोन में SMS(short message service) के मध्यम से मोबाइल बैंकिंग की कुछ सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं यहाँ पर आपको कोई इन्टरनेट कनेक्शन के ज़रूरत भी नहीं पड़ती | इसे हम कई बार text बैंकिंग या SMS बैंकिंग के नाम से भी जानते है| text बैंकिंग में आप बैंक द्वारा दिए गए कुछ नंबर्स या कोड्स को मेसेज/टेक्स्ट करते हो जिनके माध्यम से आप बैंक्स की बेसिक सेवाओं (services) का इस्तेमाल कर सकते हो |

 

मोबाइल बैंकिंग सेफ और सिक्योर है या नही ?

मोबाइल बैंकिंग एक बहुत ही सुरक्षित तरीका है किसी एक बैंक खाते से किसी अन्य बैंक खाते में पैसे ट्रान्सफर करने का | आप मोबाइल बैंकिंग के द्वारा ऑनलाइन भुगतान भी कर सकते हो | अगर आपके मोबाइल बैंकिंग के ऐप पर कोई गड़बड़ी नज़र आती है तो मोबाइल बैंकिंग द्वारा आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक सावधान का अधिसूचना (notification) आ जाता है | इसीके साथ-साथ आपको अलग-अलग कई सारे ऑफर्सdeals के notification आपके मोबाइल फ़ोन के स्क्रीन पर ही देखने को मिल जाते हैं | इसके लिए आपको अपने ऐप में बार-बार लॉग इन होने की ज़रूरत भी नहीं है |

इस नए digital इंडिया में मोबाइल बैंकिंग बहुत ही कारगर साबित होता दिखाई पड़ता है | तुरंत पैसे ट्रान्सफर करने के साथ-साथ मोबाइल बैंकिंग एक बहुत ही सुविधा जनक और सुरक्षित तरीका है ऑनलाइन transactions  करने के लिए | जैसे-जैसे समय बीतता जा रहा है वैसे-वैसे भारत में मोबाइल उपभोक्ता बढ़ते जा रहें हैं तो इसी को मद्देनज़ररखते हुए मोबाइल बैंकिंग को launch किया गया था| क्योंकि आज के समय में ज्यादातर लोगों के पास आपको मोबाइल फ़ोन देखने को मिल ही जाएगा इसी को ध्यान में रखते हुए मोबाइल बैंकिंग जैसे सेवा(service) को digital इंडिया के सन्दर्भ में लाया गया | मोबाइल बैंकिंग की सेवाओं को आप कभी भी, कहीं से भी इस्तेमाल कर सकते हो क्योंकि आपके पास हमेशा आपका मोबाइल फ़ोन ज़रूर रहता है |मोबाइल बैंकिंग की सेवा 24x7 उपलब्ध है |

 

इन्टरनेट बैंकिंग क्या है ? (Internet banking kaise kare )

दूसरी तरफ अगर हम इन्टरनेट बैंकिंग की बात करें तो यह भी एक ऑनलाइन तरीका है electronically फण्डट्रान्सफर करने का इन्टरनेट का इस्तेमाल करते हुए | इन्टरनेट बैंकिंग एक electronic सिस्टम है जिसके माध्यम से आप कई तरह की ऑनलाइन transactions कर सकते हो | बैंकिंग के क्षेत्र में |

नेट बैंकिंग ( Net Banking) एक क्रांति से कम नहीं है जिसकी मदद से उपभोक्ताओं को basic transactions के लिए अपने बैंक ब्रांच जाने की ज़रूरत नहीं | ऊपर हमें मोबाइल बैंकिंग के बारे में जाना कि एक विशेष ऐप की मदद से आप मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हो लेकिन इन्टरनेट बैंकिंग के लिए आपको कोई विशेष ऐप या कोई software डाउनलोड करने की ज़रूरत नहीं | इन्टरनेट बैंकिंग में आपको बैंक द्वारा दी गई बैंक्स की ऑफिसियल websites या net बैंकिंग के पोर्टल पर लॉग इन करना होता है | यह एक तरह से पूरी ऑनलाइन प्रक्रिया होती है इसीलिए इन्टरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करने के लिए आपके पास एक अच्छा इन्टरनेट कनेक्शन होना ज़रूरी है |

 

इन्टनेट बैंकिंग का इस्तेमाल किन किन कामो में होता है ?

जैसा की हम यह जानते है की मोबाइल बैंकिंग को इस्तेमाल करने के लिए आपके पास एक smart phone या कोई सेलुलर device (Keypad phone)  का होना ज़रूरी है तो वहीं इन्टरनेट बैंकिंग को इस्तेमाल करने के लिए आपके पास एक कंप्यूटर या कोई लैपटॉप को होना ज़रूरी है| हाँ, कुछ ऐसी भी सेवाएँ हैं जो आप इन्टरनेट बैंकिंग के माध्यम से अपने मोबाइल फ़ोन पर ही कर सकते हो |

इन्टरनेट बैंकिंग के माध्यम से कोई अकेला व्यक्ति या कोई कंपनी अपने बैंक खाते (bank account) किसी दूसरे व्यक्ति या कोई कंपनी के बैंक खाते में पैसे ट्रान्सफर या स्वीकार (accept) कर सकता है| इन्टरनेट बैंकिंग को और भी कई अन्य नामों से जाना जाता है जैसे की net बैंकिंग, ऑनलाइन बैंकिंग,वेब बैंकिंग इत्यादि | इन्टरनेट बैंकिंग के माध्यम से आप अलग-अलग सेवाओं का लुफ्त उठा सकते हैं|इन्टरनेट बैंकिंग में आप RTGS, NEFT, IMPS इस सभी सेवाओं के द्वारा एक बैंक से किसी अन्य बैंक में पैसे ट्रान्सफर और स्वीकार(accept) का सकते हो |

 

 

 

इन्टनेट बैंकिंग का इस्तेमाल क्या 24 घंटे कर सकते है ?

इन्टरनेट बैंकिंग को आप वर्ष के सभी दिन और दिन के पूरे 24 घंटे, कभी भी कहीं से भी इस्तेमाल कर सकते हो बस उस समय आपके पास एक कंप्यूटर या कोई लैपटॉप और साथ में एक अच्छा इन्टरनेट कनेक्शन होना अनिवार्य है तभी आप इन्टरनेट बैंकिंग का लाभ उठा सकते हो |

 

मोबाइल बैंकिंग और इन्टनेट बैंकिंग कौन बेहतर है ? (Mobile Banking Vs Internet Banking in hindi)

मोबाइल बैंकिंग की तुलना में इन्टरनेट बैंकिंग में आपको ज्यादा सुविधा प्राप्त हो जाती है जैसे की मोबाइल बैंकिंग में आप किसी को ज्यादा पैसे ट्रान्सफर नहीं कर सकते तो वहीं net बैंकिंग में ज्यादा पैसे ट्रान्सफर कर सकते हो, इन्टरनेट बैंकिंग में आप अलग-अलग जगह अपने पैसे निवेश कर सकते हो तो यही सुविधा की मोबाइल बैंकिंग में एक कमी नज़र आती है | इन्टरनेट बैंकिंग के द्वारा आप बहुत सी ऑनलाइन transactionsकर सकते हो जैसे

ü  फंड्सट्रान्सफर करना,

ü  अपने transactions की history देखना,

ü  बैंक्सstatement निकालना,

ü  bills का भुगतान करना जैसे पानी का बिल,

ü  बिजली का बिल, टेलीफोन बिल आदि ,

ü  मोबाइल रिचार्ज करना, DTHरिचार्ज करना,

ü  ऑनलाइन टिकेट बुक करना, नई चेक बुक के लिए apply करना,

ü  FD अकाउंट खुलवाना या बंद करवाना .....आदि

जितने भी तमाम काम हम अपने बैंक ब्रांच जाकर करते है वही सब काम अब हम अपने घर किसी सोफे पर बैठ कर आराम से आसानी से कर सकते हैं अब हमें बैंक जाकर अपने बैंक से जुड़े कुछ basic कामों के लिए लम्बी-लम्बी लाइनों में लगकर समय बर्बाद करने की ज़रूरत नहीं |

 

इन्टनेट बैंकिंग का इस्तेमाल कैसे करे जानकारी ?

हर यूजर को इन्टरनेट बैंकिंग इस्तेमाल करने के लिए या उसे खुलने(open) के लिए एक यूजर id और पासवर्ड की ज़रूरत पड़ती है | यह यूजर id और पासवर्ड या तो आपको अपने बैंक के ब्रांच से मिलता है जब आप net बैंकिंग के लिए पंजीकृत करते हो या आप जब ऑनलाइन net बैंकिंग के लिए अकाउंट बनाते हो तब मिलता है | यही यूजर id और पासवर्ड की मदद से आप ऑनलाइन बैंकिंग की websites या पोर्टल पर लॉग इन कर सकते हो और अपने ज़रूरत की हिसाब से इस्तेमाल कर सकते हो |

इन्टरनेट बैंकिंग एक बहुत ही आसान सुविधा-जनक और सुरक्षित तरीका है ऑनलाइन transactions या कोई पेमेंट (भुगतान) करने का, जिसका आप 24x7 लाभ उठा सकते हो |

 

 

      मोबाइल बैंकिंग

इन्टरनेट बैंकिंग

 

 

होता क्या है ?

जितनी भी ऑनलाइन transactions की जाती हैं वह आपके smartphone या कोई टेबलेट में मौजूद एक विशेष बैंकिंग ऐप के माध्यम से होती हैं| 

जितनी भी ऑनलाइन transactions की जाती हैं उसमें आपको एक कंप्यूटर या कोई लैपटॉप की ज़रूरत होती है, जहाँ आप बैंक्स की सुरक्षित official websites पर लॉग इन करते हैं |

 

सुविधाएँ

मोबाइल बैंकिंग में कम सुविधाएँ और विशेषताएँ मिलती हैं |

मोबाइल बैंकिंग की तुलना में इन्टरनेट बैंकिंग में आपको ज्यादा विशेषताएँ और सुविधाएँ प्राप्त होती हैं |

 

 

कनेक्टिविटी

बैंक द्वारा प्रदान किए गए विशेष ऐप, एक अच्छा इन्टरनेट कनेक्शन और SMS(शोर्टमेसेज सर्विस) जैसी सेवा की ज़रूरत पड़ती है |

Net बैंकिंग की websites या पोर्टल से जुड़ने के लिए आपको एक browser और अच्छे इन्टरनेट कनेक्शन की ज़रूरत पड़ती है |

 

 

इन्टरनेट कनेक्शन

मोबाइल बैंकिंग को इस्तेमाल करने के लिए इन्टरनेट कनेक्शन की ज़रूरत पड़ती है, या तो आपको अपने  मोबाइल डाटा (data connection) या wi-fi से इन्टरनेट की पूर्ति पूरी करनी होती है |

यहाँ तो बिना इन्टरनेटके काम बन ही नहीं सकता, ऑनलाइन बैंकिंग को इस्तेमाल करने के लिए आपको अच्छे इन्टरनेट कनेक्शन की ज़रूरत पड़ती है, या तो आपको wi-fi या wired के माध्यम से इन्टरनेट की पूर्ति पूरी करनी होती है| 

 

 

यंत्र (Device)

मोबाइल बैंकिंग में आपको एक smartphone या कोई टेबलेट और सेलुलरdevice(कीपैड फ़ोन) की ज़रूरत पड़ती है |

इन्टरनेट बैंकिंग में आपको एक कंप्यूटर या लैपटॉप की ज़रूरत होती है|

 

इन्टरनेट और उसके बिना भी आप मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हो |

लेकिन ऑनलाइन बैंकिंग का इस्तेमाल करने के लिए आपको इन्टरनेट की ज़रूरत आवश्यक होती है बिना इन्टरनेट कनेक्शन के आप कोई भी सुविधा का इस्तेमाल नहीं कर सकते |

 

 

कैशबैक

मोबाइल बैंकिंग एक application होने की वजह से उसमें आपको कैशबैक, excitingoffers, और deals (डील्स) देखने को मिल जाते हैं |

लेकिन नेट बैंकिंग में आपको कोई कैशबैक, excitingoffers, या कोई deals देखने को नहीं मिलती है |

 

 

 

Notification

मोबाइल बैंकिंग ऐप में आपको ऐप द्वारा आपके अपने मोबाइल के स्क्रीन पर notification मिल जाता है जैसे securityअलर्टमेसेज, offers और deals का notification

इन्टरनेट बैंकिंग में notification दिखने की कोई सुविधा मौजूद नहीं है

 

ऑनलाइन बैंकिंग के क्षेत्र में मोबाइल बैंकिंग को हाल ही में लौंच किया गया है |

ऑनलाइन बैंकिंग की शुरुआत ही नेट बैंकिंग के द्वारा हुई थी |

 

मोबाइल बैंकिंग की सेवा (service) आपको 24x7 उपलब्ध है |

नेट बैंकिंग की सेवा (service) भी आपको 24x7 उपलब्ध मिल जाती है |

 

FAQ

मोबाइल इन्टरनेट बैंकिंग के फ़ायदे क्या हैं ?

ü  यह सेवा(service) आपके लिए दिन के पूरे 24 घंटे और हफ्ते के सातों दिन (24x7) उपलब्ध है, इसका इस्तेमाल आप कभी भी कहीं से भी कर सकते हैं |

ü  मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग के माध्यम से उपभोक्ता (users) बहुत सारी सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं जैसे

o   ऑनलाइन transactions history देखना

o   खाते में शेष बचे हुए पैसे चेक करना (checkaccountbalance)

o   एक बैंक से किसी अन्य बैंक में पैसे / फंड्सट्रान्सफर करना

o   पैसे / फंड्स स्वीकार करना (acceptmoney)

o   Utilitybills (यूटिलिटी बिल) का भुगतान करना जैसे टेलीफोन बिल, बिजली बिल (electricity bills), पानी का बिल (waterbill)

o   अपने कार्ड्स को मैनेज कर सकते हो

o   अपने पैसे निवेश कर सकते हो जैसे की mutualfunds में निवेश करना

o   प्रीपेड मोबाइल रिचार्ज करना

o   DTHरिचार्ज करना, ऑनलाइन टिकेट बुक करना

ü  आप अपने मुताबिक अपने मोबाइल बैंकिंग के applications को मैनेज और customize कर सकते हो |

ü  मोबाइल बैंकिंग माध्यम से कोई transactions करने पर आपको कैशबैक जैसे ऑफर्स और डील मिल जाते हैं

ü  मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग दोनों में ही आप अपने वित्तीय transactions को चेक और ट्रैक कर सकते हो |

ü  मोबाइल बैंकिंग में आपको notifications की सेवा (service) facility मिल जाती है |

ü  मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग दोनों ही इस्तेमाल करने में आसान है

ü  मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग एक सुविधा जनक और सुरक्षित तरीका है आपके पैसे ट्रान्सफर करने के लिए या कोई ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए |

 

मोबाइल बैंकिंग के लिए पंजीकृत ( Registration ) कैसे करें ?

मोबाइल बैंकिंग को इस्तेमाल करने के लिए आपको सबसे पहले आपको ऐप में पंजीकृत होना होगा | पंजीकृत करने के लिए आप दो से तीन तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हो नीचे दिए गए वह तरीकें

तरीका नंबर 1- मोबाइल ऐप के द्वारा

1.      बैंक द्वारा प्रदान किए गए निर्धारित या विशेष application को आप अपने गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हो अगर आप एक एंड्राइडयूजर हैं तो, smartphones के लिए

2.      अगर आप IOSयूजर (apple फ़ोन / आई-फ़ोन) हैं तो आप अपने एप्पलस्टोर से ऐप को डाउनलोड कर सकते हो

3.      ऐपडाउनलोड होने के बाद अगला कदम यह है की आपको अपने बैंकिंग ऐप के लिए एक MPINसेट करना होगा जो की आपके ऐप के लिए एक सुरक्षा(security)lock के तौर पर काम करेगा | आप जब-जब ऐप में लॉग इन करेंगे या ऐप खोलेंगे (open) करेंगे तो हमेशा आपको यही MPINपासवर्ड के तौर पर देना होगा |

4.      ऐपमें enterहोने के बाद आप अपने इन्टरनेट बैंकिंग के id और पासवर्डकी मदद से मोबाइल बैंकिंग में लोग इन कर सकते हो और फिर इस्तेमाल में ला सकते हो |

तरीका नंबर 2- अपने बैंक ब्रांच जाकर मोबाइल बैंकिंग के लिए पंजीकृत करना

यहाँ पर उपभोक्ता को अपने बैंक ब्रांच जाकर मोबाइल बैंकिंग के लिए एक applicationफॉर्म भरना होगा, उसकी के साथ जो जो डाक्यूमेंट्सफॉर्म से साथ लगेंगे वह लगाने पड़ेंगे जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड आदि और फिर आपको applicationफॉर्मडाक्यूमेंट्स के साथ बैंक अधिकारी को सबमिट करना होगा | बैंक के द्वारा सफलतापूर्वक verification और पंजीकृत(registration) होने के बाद आप मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल कर सकते हो |

तरीका नंबर 3-ATMcumडेबिट कार्ड के माध्यम से

1.      आपको अपने बैंक के किसी नजदीकी ATM में जाना होगा

2.      जब आप अपने ATM कार्ड को मशीन में स्वाइप (swipe) करेंगे तो आपके सामने ATMस्क्रीन पर बहुत से विकल्प(option) देखने को मिलेंगे उनमें से आपको MobileRegistrationके विकल्प(option) को चुनना होगा |

3.      उसके बाद आपको Mobile Banking Registrationका विकल्प दिखाई देगा उसपर अब आप सेलेक्ट कर लें

4.      इतना करने के बाद अब आपको अपना बैंक्स खाते से पंजीकृत मोबाइल (registeredmobilenumber) नंबर भरना है जो verify होगा उसके बाद पंजीकृत के लिए आगे बढ़ें (proceed) करें

 

मोबाइल बैंकिंग द्वारा फंड्स / पैसे कैसे ट्रान्सफर करें ?

1.      मोबाइल बैंकिंग के लिए आपके बैंक द्वारा दिए गए विशेष ऐप को डाउनलोड कर लें

2.      अपने बैंक खाते (bankaccount) को मोबाइल बैंकिंग से जुड़ें (link)

3.      आप अपने बैंक खाते से किसी अन्य बैंक खाते में पैसे transfer कर सकते हो या किसी अकेला व्यक्ति(individual) को भी सीधे-सीधे पैसे भेज(transfer) सकते हो

4.      अगर आप मोबाइल बैंकिंग के माध्यम से किसी बैंक अकाउंट में पहली बार पैसे ट्रान्सफर कर रहे हो तो आपको beneficiary की जानकारी (details) जैसे अकाउंट नंबर, IFSCकोड को पहले ऐड करना होगा, उसके बाद आप पैसे ट्रान्सफर कर सकते हो

5.      लेकिन अगर आप किसी individual को पैसे ट्रान्सफर कर रहे हो तो उस beneficiary  को भी आप ऐड कर सकते हो | पैसे ट्रान्सफर करने के लिए आपको beneficiary का मोबाइल नंबर इंटर करना होगा या MMID नंबर

6.      उसके बाद जितना भी आपको पैसे ट्रान्सफर करने है वह अमाउंट भरें और आगे बढ़ें (proceed)

7.      आगे बढ़ने के बाद अब आपको अपना securityकोड या पिन भरना(fill) है फिर confirmबटन पर tap करें

8.      बैंक द्वारा आपके पंजीकृत मोबाइल(registeredmobile) नंबर पर एक OTP(One Time Password) आएगा उसको भर लें और transaction को पूरा(complete) करें

 

मोबाइल बैंकिंग ऐप को कहाँ से प्राप्त करें ?

मोबाइल बैंकिंग में इस्तेमाल होने वाले ऐप को आप गूगल प्ले स्टोर या एप्पलस्टोर से डाउनलोड कर सकते हो |

क्या मुझे मोबाइल बैंकिंग इस्तेमाल करने के लिए किसी विशेष प्रोवाइडर को पंजीकृत (registered) करना होगा ?

नहीं, मोबाइल बैंकिंग इस्तेमाल करने के लिए आपको किसी विशेष प्रोवाइडर को पंजीकृत करने की ज़रूरत नहीं है | यह सेवा आपको आपके बैंक द्वारा प्रदान की जाती है |

 

क्या में अपनी MPIN को बदल(change) सकता हूँ ?

हाँ, आप अपने MPIN को बदल सकते हो, आप अपने मोबाइल बैंकिंग के ऐप में ChangeMPINके सेक्शन में जाकर अपना MPIN बदल सकते हो |

 

 

क्या हर बैंक के लिए एक ही मोबाइल बैंकिंग ऐप होता है ?

नहीं, अलग-अलग बैंकों का खुद का एक application(ऐप) होता है जो उपभोक्ता को मोबाइल बैंकिंग के इस्तेमाल के लिए प्रदान किया जाता है | उद्धरण के लिए – “imobileऐपicici बैंक द्वारा लौंच किया गया मोबाइल बैंकिंग के लिए एक ऐप है|

·        statebankanywhereएप एक SBI का मोबाइल बैंकिंग ऐप है,

·         IDBIGomobileएपIDBI मोबाइल बैंकिंग एप है,

·        बैंक ऑफ़ इंडिया मोबाइल बैंकिंग ऐप,

·        HDFC मोबाइल बैंकिंग ऐप, HDFCPayzappमोबाइल बैंकिंग ऐप,

·        AxisMobileAxis बैंक का मोबाइल बैंकिंग ऐप है,

·        U-MobileUnionऑफ़ इंडिया का मोबाइल बैंकिंग एप है,

·        और भी बहुत सारे बैंक मौजूद है जिनके मोबाइल बैंकिंग के लिए एक विशेष एप है

 

 

 

सबसे अच्छा कौनसा मोबाइल बैंकिंग ऐप है ?

हर बैंक का खुद का एक मोबाइल बैंकिंग के लिए application(ऐप) है और हर बैंक अपने हर एक ग्राहक (costumer), यूजर को जितना हो सके उतना एक बेहतर सुविधा (facility) और सेवा (services) मुहैया प्रदान करना चाहता है | और बहुत से लोगों के बैंक अकाउंट अलग-अलग बैंकों में होते हैं और वह उन बैंकों से प्राप्त होने वाली सुविधाओं का इस्तेमाल करते हैं तो यह उपभोक्ता पर निर्भर करता है की उसे कौन से बैंक की सेवाएँ पसंद है | वैसे icici बैंक, HDFC बैंक, axis बैंक, और SBI बैंक इन जैसे बैंकों की मोबाइल बैंकिंग की सेवाओं को अच्छा माना गया है | जिनमें से icici बैंक का imobile” - मोबाइल बैंकिंग एप ज्यादा चर्चित है | 

 

ऑनलाइन बैंकिंग एक बहुत ही बड़ा प्लेटफार्म है जहाँ आपको बहुत सारी सेवाओं का भण्डार मिलता है| तो वहीं आप कह सकते हो की मोबाइल बैंकिंग, इन्टरनेट बैंकिंग का एक छोटा संस्करण (version) है या कह सकते हो एक अपग्रेडेड version है जो इन्टरनेट बैंकिंग को और आसान कर देता है जिसकी मदद से आप transactions के साथ-साथ ऑनलाइन कोई भुगतान या किसी को तुरंत पैसे ट्रान्सफर कर सकते हो | अंत में, मैं आपसे यही कहना चाहूँगा की इन्टरनेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग और कुछ नहीं बस एक ही सिक्के के दो पहलू हैं |

 

उम्मीद करता हूँ आप को यह समझ आ गया होगा की मोबाइल बैंकिंग और इन्टनेट बैंकिंग क्या है और इन्टरनेट बैंकिंग और इन्टनेट बैंकिंग में क्या अंतर होता है, मोबाइल बैंकिंग और इन्टरनेट बैंकिंग क्यों जरुरी है और क्या है सुविधा हमें मिलता है  और किस तरह से इन्टनेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग ने फैसे भीजना हो या कोई रचार्गे करना हो या कोई भी ऑनलाइन ट्रांसेक्सन कितना सां कर दिया जहा पूरा दिन लग जाता था वही मोबाइल और इन्टनेट बैंकिंग के अ जाने से जल्दी हो जाता है और वो भी बिना बैंक जाए और आसानी से , फिर मिलते है ऐसे ही काम की जानकारी के साथ , धन्यवाद ! |


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.