मुद्रा लोन पूरी जानकारी : Mudra loan kaise lete hai - mudra loan kaise liya jata hai

मुद्रा लोन पूरी जानकारी : Mudra loan kaise ilta hai - mudra loan kaise liya jata hai

mudra loan kaise milta hai
टॉपिक कवर्ड :
✔ Mudra loan kaise lete hai
✔ Mudra loan kya hai
✔ Mudra loan kaise milta hai 
✔ Mudra loan kaun kaun le sakta hai
✔ Mudra loan ke liye jaruri documents
✔ Mudra loan ki madad se konsa business suru kar skate hai
✔ Mudra loan ke fayde 
✔ Mudra loan ke nuksan
✔ Mudra loan Eligibility Criteria 
✔ Mudra loan ke liye Apply Kaise kare
✔ FAQs (Apke Sawal or Jawab )

 


मुद्रा लोन कैसे लेते है (Mudra loan kaise liya jata hai )

प्रधान मंत्री मुद्रा योजना (PPMY) जिसे हम लोग आमतौर पर सिर्फ मुद्रा लोन के नाम से जानते हैं | इस  योजन (scheme)  का  शुभारंभ 8 अप्रैल 2015 में माननीय प्रधान मंत्री जी के द्वारा किया गया | इस योजना के अंतर्गत 50 हज़ार से 10 लाख रुपए तक के लोन  का लोग लाभ उठा सकते हैं | लेकिन यह लोन  कृषि और निगमित (corporate) क्षेत्र के लिए नहीं है | मुद्रा की फुलफॉर्म होती है माइक्रो यूनिट डेवलपमेंट एंड रेफिनांस एजेंसी इसके  नाम से ही हम यह समझ पा रहें की इस योजना को छोटे उद्यम (small enterprises) के लिए शुरू किया गया है |

इस योजना में मिलने वाले लोन को आप RRBs (regional rural banks)व्यावसायिक बैंक, छोटे लघु वित्त बैंक, MFIs (micro finance institutions), NBFCs (non-banking financial corporations)जैसे बैंकों से प्राप्त कर सकते हैं | जिसको को भी लोन  की आवश्यकता हो वह इन बैंकों से लोन के लिए संपर्क कर सकते हैं|मुद्रा लोन  को तीन श्रेणी में बाटा गया है जिनका नाम है – “शिशु”, “किशोर” और “तरुण” यह तीनों श्रेणी अलग-अलग अवस्था में ज़रुरतमंदों के लिए उपलब्ध है |

 

मुद्रा लोन  का लाभ कौन लोग उठा सकते है ? / कौन-कौन लोग उठा सकते हैं

भारत सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना का एक अलग हीउद्देश्य है | इस योजना का मुख्य इरादा यह है की छोटे लघु उद्योग पर ध्यान दिया जाए, जो लोग छोटा व्यापार करते हैं जिनका व्यापार बड़े पैमाने पर नहीं होता उन लोगों के लिए सरकार ने यह योजना का आरम्भ किया हैं, जिसकी मदद से वह लोग अपने व्यापार को आगे बढ़ा सकें | बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो अपना खुद का व्यापार शुरू करना चाहते है लेकिन उनके पास इतने पैसे/फंड्स  नहीं होते कि कोई भी नया व्यापार शुरू कर सकें या पहले से मौजूद व्यापार को और आगे बढ़ा सके या बेहतर कर सकें | तो इसलिए सरकार ने उन लोगों को मद्देनज़र रखते हुए यह योजना को लागू किया जिसकी मदद से छोटे उद्यम, कंपनी, या कोई फर्म को लाभ मिल सके और वह अपने जीवन में कोई नई शुरुआत कर सके |

जिन लोगों का व्यापार बड़े स्तर पर होता है और वह लोग अपने कारोबार से लाखों-करोड़ों पैसे कमा रहें हैं तो उन लोगों के लिए यह योजना (मुद्रा लोन ) प्राप्य नहीं है क्योंकि उन कारोंबारिओं ,कम्पनिओं को इस लोन  की आवश्यकता नहीं होती है | मुद्रा लोन  में आप ज़्यादा से ज़्यादा 10 लाख रुपया तक का ही लोन  ले सकते हैं , इसी कारण की वजह से बड़े उद्योग करता इस लोन  को नहीं लेते क्योंकि बड़े स्तर पर व्यापार होने की वजह से उनकी आमदनी भी ज़्यादा होती है तो उनको इस लोन  की ज़रूरत नहीं पड़ती | और सरकार ने भी यह मुद्रा लोन  बड़े उद्योग या निगमित क्षेत्र के लिए प्राप्य नहीं रखा है |

 

मुद्रा लोन  की मदद से आप कौन-कौन से व्यापार शुरू कर सकते हैं या आपका कोई पहले से व्यापार है तो उसे आगे भी बढ़ा सकते हैं ?

जैसाकि आपने ऊपर यह जाना की मुद्रा लोन  का लाभ को कौन लोग उठा सकते है अब हम यह जानेंगे की इस मुद्रा योजना से आप किन छोटे-मोटे व्यापारों को  शुरू कर सकते हैं –

Ø परिवहन व्यवसाय के लिए आप मुद्रा लोन  ले सकते हैं जैसे कोई तीन पहिया परिवहन –ऑटोरिक्शाव, इ-रिक्शाव, चार पहिया परिवहन- टैक्सी, माल ढोने वाली गाड़ी, ट्रेक्टर-ट्रोली आदि इन जैसे वाहनों से आप कोई व्यापार करना चाहते हैं तो मुद्रा लोन  की मदद से अपने इस व्यापार को शुरू कर सकते हैं |

Ø कपड़ा उत्पाद क्षेत्र जैसे कपड़े की रंगाई, कपड़े पर छपाई, हाथों से बने हुए कपड़ों का व्यापार, कपड़े की दुकान खोलना, कपड़े के थैले बनाना, खादी कपड़ों का व्यापार आदि कामों के लिए आप मुद्रा लोन  ले सकते हैं |

Ø खाद्य उत्पाद क्षेत्र जैसे फ़ास्टफ़ूड का ठेला खोलना चाहते हैं, अचार-पापड़ का व्यापार, मिठाई की दुकान, catering या कैंटीन का व्यापार, बिस्कुट, बन, आइस-क्रीम का व्यापार, जैम-जैली बनाने का व्यापार, अपना कोई  छोटा सा होटल खोलना आदि और जितने भी खाद्य (food) से जुड़े व्यापार है वह सब आप मुद्रा लोन  को लेकर शुरू कर सकते हैं |

Ø अपनी  कोई नाई की दुकान (salons), ब्यूटी-पर्लौर्स, दर्जी की दुकान, बुटीक की दुकान, gym,फोटोकॉपी की दुकान, दवाई की दुकान, ड्राई-क्लीनिंग, मोटर-गाड़ी रिपेयर की दुकान, आटे की चक्की की मशीन का सेटअप लगवाना आदि इस तरह के इन समुदायिक और व्यक्तिगत सेवाओं के लिए आप मुद्रा जैसे लोन  का सहारा ले सकते हैं |

Ø दुकानदारों और ट्रेडर्स के लिए व्यवसाय लोन – इसमें सभी प्रकार के छोटे दुकान जैसे व्यापार शामिल हैं |

Ø आप अपना कोई छोटा-मोटा व्यवसाय खोलना चाहते हैं और उसके लिए आपको कोई मशीनरी के सेटअप की ज़रूरत पड़ रही है तो वह आप मुद्रा लोन  की मदद से पूरा कर सकते हैं |

Ø मछली पालन, डेरी का काम,मधुमक्खी पालन, मुर्गी पालन, आदि इन काम के लिए भी आप मुद्रा लोन  ले सकते हैं |

 

मुद्रा लोन  के प्रकार ( mudra loan types)

सरकार द्वारा दिए जाने वाले इस मुद्रा लोन  योजना के अंतर्गत आपको ज़्यादा से ज़्यादा 10 लाख रुपए तक ही लोन  मिल सकता है जिसे सरकार ने इस 10 लाख की राशि को तीन भागों में बांटा गया है जिनके नाम है शिशु, किशोर, और तरुण |

1.     सबसे पहले आती है “शिशु” श्रेणी – इस श्रेणी में मिलने वाली लोन  की रकम 50 हज़ार रुपए तक है | जिन लोगों को अपने व्यापार में 50 हज़ार रुपए या उससे कम राशि की ज़रूरत होती है तो वह लोग शिशु लोन  को चुन सकते हैं | यह लोन  उन लोगों के लिए  है जो बहुत आम और छोटा व्यवसाय खोलना चाहते हैं , या पहले से मौजूद किसी व्यवसाय में 50 रुपए तक की ज़रूरत पड़ रही है तो वह लोग भी इस शिशु लोन  का लाभ उठा सकते हैं |

2.     दूसरी आती है “किशोर” श्रेणी – इस श्रेणी में मिलने वाली लोन  की रकम 50 हज़ार से लेकर 5 लाख रुपए तक होती है | जिन लोगों को अपने व्यापार में 50 हज़ार रुपए से ऊपर और 5 लाख रुपए या उससे नीचे  की राशि की ज़रूरत होती है तो वह लोग किशोर श्रेणी की तरफ रुख कर सकते हैं |

3.     तीसरी और आख़री  आती है “तरुण” श्रेणी – इस श्रेणी में मिलने वाली रकम 5 लाख रुपए से लेकर 10 लाख रुपए तक होती है | जिन लोगों को अपने व्यवसाय में 5 लाख रुपए से ऊपर और 10 लाख रुपए तक की राशि की ज़रूरत होती है तो वह लोग तरुण श्रेणी की और अपना मन बना सकते हैं और लोन  का लाभ उठा सकते हैं |

 

मुद्रा लोन  के फायदे ( Mudra loan ke fayde )

Ø मुद्रा योजना के अन्दर आप 10 लाख रुपए तक लोन  प्राप्त कर सकते हो वह भी कम ब्याजदर पर |

Ø छोटे लघु उद्योगमुद्रा योजना का लाभ उठा सकते हैं  |

Ø बहुत से बैंक मुद्रा योजना में मिलने वाले शिशु श्रेणी के लोन  पर कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं लेते और जो बैंक प्रोसेसिंग शुल्क वसूलते हैं तो वह बहुत ही कम होता अगर बाकी लोन  से तुलना करी जाए तो |

Ø सरकार के मुताबिक मुद्रा लोन  के लिए आपको कोई  collateralकी ज़रूरत नहीं होती लेकिन कुछ बैंक आपसे कोलैटरल की मांग कर सकता है |

Ø हमारे भारत देश में अभी भी ऐसे सुदूर स्थान (remote places) मौजूद है जहाँ बैंकिंग जैसी सुविधाएँ उपलब्ध नहीं है  जिसके कारण वहां के लोग भी बैंकिंग की सुविधाओं का लाभ नहीं उठा पा रहें , तो मुद्रा योजना का मुख्य उद्देश्य यही है की इन जगह और उनके लोगों तक इस योजना के माध्यम से बैंकिंग सुविधाओं को मुहिया करा सकें | और जिसको इन सुविधाओं की ज़रूरत है वह इसका लाभ उठा सकें |

Ø जो लोग sc, stobc, जैसी श्रेणी से सम्बंधित(belong) है वह लोग भी मुद्रा लोन  ले सकते हैं रियायती ब्याजदरों पर |

Ø महिला उद्यमी के मिलने वाला लोन  , कम ब्याजदरों पर |

Ø बैंकिंग वित्त जैसी सुविधा का लाभ सूक्ष्म लघु व्यवसाय और जो लोग अपना व्यवसाय शुरुआत करना चाहते है वह सब उठा सकते हैं|

Ø आप एक छोटे व्यवसाय के लिए कम रकम का लोन  भी ले सकते है जैसे 50 हज़ार रुपए तक वह भी कम ब्याजदरों पर |

Ø  खाद्य विक्रेता, दुकानदार, और छोटे लघु उद्योग आदि इस योजना का ज़्यादा से ज़्यादा फायदा उठा सकते हैं |

Ø मुद्रा योजना के अंतर्गत लिए गये लोन  की राशि को वापस चुकाने (repayment) के  समय को आप बढ़ा भी सकते हो |

Ø इस योजना के अन्दर ली गयी लोन  राशि को सिर्फ व्यवसाय के लिए इस्तेमाल कर सकते हो |

Ø “Make in India”के साथ प्रधान मंत्री मुद्रा योजना का सहयोग है |

 

मुद्रा लोन  के नुकसान ( Mudra loan ke nuksan )

Ø क्या मुद्रा योजना RBI के अंतर्गत काम करती है यह अभी साफ़ पता नहीं चला है |

Ø एक संशय अभी भी बना रहता है कि जिस समय मुद्रा योजना को लागू किया गया उस समय पहले से ही काफी इसी तरह की वित्तीय संस्था मौजूद थी |

 

पात्रता मापदंड (Mudra loan eligibility criteria kya hai) –

Ø मुद्रा लोन  का लाभ उठाने के लिए आवेदक को भारतीय नागरिक होना ज़रूरी है |

Ø आवेदक कम से कम 18 साल का होना चाहिए |

Ø कोई अकेला व्यक्ति, फर्म, या कोई कंपनी मुद्रा योजना के तहत लोन  के लिए आवेदन कर सकते हैं |

Ø गैर-कृषि (non-farming) और गैर-निगमित (नॉन-corporate) क्षेत्र के लोग मुद्रा योजना से मिलने वाले लोन  के लिए आवेदन कर सकते हैं |

Ø जिनके छोटे लघु उद्योग हैं तो वह लोग इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं, या जिनके पहले से ही कोई छोटा-मोटा कारोबार है और वह अपने उस कारोबार को आगे बढ़ाना चाहते हैं तो वह लोग भी इस लोन  के लिए आवेदन कर सकते हैं |

Ø जिन लोगों का लाखों-करोड़ों का कारोबार है तो वह इस मुद्रा योजना से मोलने वाले लोन  के लिए आवेदन नहीं कर सकते |

Ø जिन लोगों को अपने किसी व्यापार या व्यवसाय के लिए  10 लाख रुपए तक की ज़रूरत है तो वह इस लोन  के लिए आवेदन कर सकते हैं |

 

मुद्रा लोन  के लिए ज़रूरी दस्तावेज़ ( mudra loan ke liye important documents )

Ø आवेदन पत्र (applicationform),

Ø पहचान प्रमाण पत्र जैसे की वोटर id कार्ड, पैन कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस आदि,

Ø पते का सबूत जैसे आधार कार्ड, वोटर id कार्ड, utility बिल जैसे बिजली का बिल, टेलीफोन का बिल, पासपोर्ट आदि,

Ø आवेदक के पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ्स,

Ø अगर आवेदक किसी sc st या obc आदि जैसी श्रेणी से सम्बन्ध रखते हैं तो आवेदक को उसके प्रमाण पत्र प्रदान करना होगा,

Ø आवेदक के पिछले 6 महीनों की बैंक स्टेटमेंट,

Ø अगर बैंक और भी किसी दस्तावेज़ की मांग करता है तो वह दस्तावेज़ आवेदक को बैंक में प्रदान करने होंगे |

 

मुद्रा लोन के लिए कैसे आवेदन करें ? (Mudra loan kaise apply karte hai)

Ø आप जिस भी बैंक से मुद्रा लोन  लेना चाहते हो तो उस बैंक का आवेदन पत्र आप या आप ऑनलाइन उस बैंक की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं या फिर आप उस बैंक की नजदीकी ब्रांच शाखा में जाकर वहाँ से आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं | फिर उस आवेदन पत्र को आप ध्यानपूर्वक भर लें और उसके साथ ज़रूरी दस्तावेज़ लगा दें (attach) जैसे आपका फोटोग्राफ, पैन कार्ड, आधार कार्ड आदि की फोटोकॉपी |

Ø अपने सभी ज़रूरी दस्तावेजों को तैयार कर के रख लें और जब बैंक उन दस्तावेजों की मांग करें तो आप उस समय उनको प्रदान कर सको |

Ø अगर आपको अपने व्यवसाय के लिए लोन  को मंजूरी दिलवानी है तो आप अपनी तरफ से पूरी कोशिश करनी होगी उसके लिए आपको एक बेहतर और अच्छी प्रोजेक्ट-रिपोर्ट बनानी होगी और वह रिपोर्ट आपको को बैंक को प्रदान करनी होगी |

Ø आपकी प्रोजेक्ट-रिपोर्ट जितनी बेहतर होगी उतने ही लोन  मिलने के अवसर भी बढ़ जाते हैं | तो जितना हो सके आप उतना अपनी प्रोजेक्ट-रिपोर्ट को एक सही तरीके से तैयार करें |

Ø बैंक आपके द्वारा दिए गए सभी दस्तावेजों और प्रोजेक्ट-रिपोर्ट की जांच करेगा और अगर सब सही रहा तो बैंक आपको मुद्रा लोन  दे सकता है |

 

FAQ (आपके सवाल और जवाब ) :

 1.     क्या मुझे मुद्रा लोन  के लिए कोई collateralया कोई securityबैंक को प्रदान करनी होती है ?

नहीं, प्रधान मंत्री मुद्रा योजना में मिलने वाले धनराशि के लिए आपको कोई collateral या कोई security की ज़रूरत नहीं होती है |


 2.     कौन से बैंक मुद्रा लोन  प्रदान करते हैं ?

निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकजैसे, micro finance Institutions (MFIs), small finance banks (SFBs), non-banking financial companies (NBFCs), regional rural banks (RRBs), प्राइवेट और पब्लिक क्षेत्र में मौजूद commercial banks आदि यह सभी बैंक मुद्रा लोन  प्रदान कराते हैं |


 3.     हमारा पहले से ही एक ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय है और हम उसको और आगे बढ़ाना चाहते तो क्या उसके लिए हमको लोन  मिलेगा ?

हाँ, अगर आपका पहले से ही कोई व्यवसाय है और उसको आप और आगे बढ़ाना चाहते हैं तो उसके लिए भी आप मुद्रा लोन  ले सकते हैं |


 4.     क्या महिलाओं के लिए मुद्रा लोन  है ?

जी हाँ, महिलाओं के लिए मुद्रा लोन  खास तौर पर उपलब्ध है क्योंकि महिला उद्यमी को बढ़ावा देना और उनको आगे बढ़ने की प्रेरणा के साथ मुद्रा योजना में महिलाओं के लिए लोन  प्राप्य है और वह भी कम ब्याज दरों पर |


 5.     में अपने मुद्रा लोन  का स्टेटस कैसे चेक कर सकता हूँ ?

आप अपने मुद्रा लोन  का स्टेटस दो तरीकों से चेक कर सकते हैं पहला तो आप बैंक की शाखा में जाकर पता कर सकते हैं और दूसरा आप ऑनलाइन बैंक की वेबसाइट से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या फिर ई-मुद्रा लोन  appकी मदद से आप अपने लोन  का स्टेटस जान सकते हैं |


 6.     में मुद्रा लोन  से ज़्यादा से ज़्यादा और कम से कम कितने का लोन  ले सकता हूँ ?

आप मुद्रा लोन  से ज़्यादा से ज़्यादा 10 लाख रुपए तक और कम से कम 50 हज़ार रुपए तक का लोन  ले सकते हैं |

 

 

 

 

 

 

 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.